Roti Making Inauspicious:गलती से भी ना बनाए रोटी इन खास दिनों पर

Roti Making Inauspicious:गलती से भी ना बनाए रोटी इन खास दिनों पर

 
.

रोटी भोजन का वह स्रोत है जो हर घर में रोज बनता है और परिवार की भूख मिटाता है। भोजन की थाली में रोटी न हो तो न पेट तृप्त होता है और न मन। वहीं, हिंदू धर्म शास्त्रों के अनुसार कुछ खास दिन ऐसे भी होते हैं जब रोटी बनाने से घर में अशुभता का आगमन हो सकता है। इन दिनों में रोटी बनाना घर में विपत्ति को आमंत्रण देने जैसा माना जाता है। इन विशेष दिनों में रोटी बनाने से भी ग्रह और घर का घेरा बना रहता है।

.

मृत्यु के समय रोटी न बनाएं

यदि घर में किसी व्यक्ति की मृत्यु हो जाती है तो तेरहवीं के बाद ही रोटी बनाना उचित माना जाता है। शास्त्रों में कहा गया है कि यदि किसी व्यक्ति की मृत्यु के बाद 13 दिन पूरे किए बिना घर में रोटी बनाई जाए तो उस मृत व्यक्ति के सूक्ष्म शरीर पर फफोले पड़ जाते हैं।

नागों के पर्व पर रोटी नहीं बनाना चाहिए

नागपंचमी या किसी अन्य त्योहार जो सांपों को समर्पित हो, के दौरान रोटी नहीं बनानी चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि तवे को सांपों के फन के समान माना जाता है ऐसे में अगर तवे को आग पर रखा जाए तो इससे सांपों को पीड़ा होती है और व्यक्ति को काल सर्प दोष का भागी बनना पड़ता है।

.

पूर्णिमा के दिन रोटी न बनाएं

पूर्णिमा के दिन चंद्रमा अपनी 16 कलाओं के साथ आकाश में मौजूद होता है, जिससे उसकी चांदनी की धरती पर पड़ने वाली छटा बड़ी निराली होती है। शास्त्रों में वर्णित जानकारी के अनुसार पूर्णिमा के दिन मिठाई का भोग लगाने और खाने से चंद्रमा प्रसन्न रहता है और व्यक्ति चंद्र दोष से भी बच जाता है। जिन राशियों के स्वामी चंद्रमा हैं उन्हें पूर्णिमा के दिन रोटी की जगह मीठा खाना चाहिए।

.

बड़े त्योहारों पर रोटी न बनाएं

दिवाली, होली, जन्माष्टमी, भाईदूज आदि कई बड़े त्योहार हैं जिन पर भूलकर भी रोटी नहीं बनानी चाहिए। ऐसा इसलिए क्योंकि इन दिनों में अन्न का अग्नि को छूना अपमान समझा जाता है। साथ ही मिठाई और पकवान बनाने के बारे में भी कहा जाता है क्योंकि ये चीजें दैवीय शक्तियों को बहुत प्रिय होती हैं।

चेचक में रोटी न बनाएं

माना जाता है कि चेचक यानी माता का आना शीतला माता का प्रकोप है। ऐसे में अगर इस दौरान घर में रोटी बना ली जाए तो रोगी की परेशानी बढ़ जाती है। साथ ही यह बीमारी आसानी से ठीक भी नहीं होती है।

From Around the web