इस रक्षाबंधन भूल से भी राखी ना बांधे - रक्षाबंधन पर लग रहा भद्रा साया

इस रक्षाबंधन भूल से भी राखी ना बांधे - रक्षाबंधन पर लग रहा भद्रा साया

 
.

हर साल रक्षाबंधन के दैनिक बहन भाई के कलाई में राखी बांधती है और भाई बहन को रक्षा का वचन देता है। यह शुभ त्यौहार सावन के महीने में शुक्ल पक्ष की पूर्णिमा को मनाया जाता है इस पर्व पर भाई भी अपनी बहन को रक्षा का वजन देते हैं।  इस साल रक्षाबंधन का त्यौहार 11 अगस्त को मनाया जाने वाला है। यदि भद्र काल में कोई राखी बंधवा ता है तो वह अशुभ माना जाता है।

हिंदू पंचांग के अनुसार इस साल रक्षाबंधन के दिन भद्रा का साया है। इस साल होने वाले रक्षाबंधन से जुड़े कुछ जरूरी मुहूर्त है जो आपकी जानकारी के लिए महत्वपूर्ण है। इस साल रक्षाबंधन की  तिथि 11 अगस्त 2022, गुरुवार है। पूर्णिमा तिथि 11 अगस्त, सुबह 10 बजकर 38 मिनट से आरंभ होकर 12 अगस्त. सुबह 7 बजकर 5 मिनट पर समाप्त होने वाली है।

रक्षाबंधन पर राखी बांधने का शुभ मुहूर्त 11 अगस्त को सुबह 9 बजकर 28 मिनट से रात 9 बजकर 14 मिनट तक रहेगा। ऐसे में इस समय के दौरान बहने भाइयों को राखी बांध सकती हैं। अभिजीत मुहूर्त  दोपहर 12 बजकर 6 मिनट से 12 बजकर 57 मिनट तक रहने वाला है। इस साल होने वाले रक्षाबंधन से जुड़े कुछ जरूरी मुहूर्त है जो आपकी जानकारी के लिए महत्वपूर्ण है। इस साल रक्षाबंधन की  तिथि 11 अगस्त 2022, गुरुवार है। पूर्णिमा तिथि 11 अगस्त, सुबह 10 बजकर 38 मिनट से आरंभ होकर 12 अगस्त. सुबह 7 बजकर 5 मिनट पर समाप्त होने वाली है।

रक्षाबंधन पर राखी बांधने का शुभ मुहूर्त 11 अगस्त को सुबह 9 बजकर 28 मिनट से रात 9 बजकर 14 मिनट तक रहेगा। ऐसे में इस समय के दौरान बहने भाइयों को राखी बांध सकती हैं। अभिजीत मुहूर्त  दोपहर 12 बजकर 6 मिनट से 12 बजकर 57 मिनट तक रहने वाला है।

From Around the web