नवरात्री में इन मंदिरो के दर्शन करने से होंगी सारी मनोकामनाए पूरी

नवरात्री में इन मंदिरो के दर्शन करने से होंगी सारी मनोकामनाए पूरी

 
.

देवी दुर्गा भारत में हिंदू धर्म की सबसे पूजनीय देवियों में से एक हैं। भारत में मां दुर्गा को कई शक्तियों के नाम से जाना जाता है जैसे कि कष्ट हरनी और पापनाशनी।  इस वर्ष नवरात्रि 26 सितंबर से 4 अक्टूबर तक है और दशहरा 5 अक्टूबर को मनाया जाएगा।नवरात्रि के पवित्र दिनों में मां दुर्गा के दर्शन के लिए भक्त प्रसिद्ध और पवित्र मंदिरों में भी जाते रहते हैं। समुद्र तल से 15 हजार मीटर से अधिक की ऊंचाई पर त्रिकुटा पहाड़ियों में स्थित है वैष्णो देवी मां दुर्गा का पवित्र स्थान । मान्यताओं के अनुसार जो भी वैष्णो देवी के दर्शन करता है उसकी सभी मनोकामनाएं पूर्ण होती हैं।

नवरात्रि में यहां लाखों श्रद्धालु दर्शन के लिए पहुंचते हैं।कहा जाता है कि मनसा देवी जो कि उत्तराखंड में स्थित है, इसका नाम इस विश्वास के कारण पड़ा कि देवी अपने भक्तों की सभी इच्छाओं को पूरा करती हैं। यह मंदिर इतना पवित्र है कि उत्तराखंड का लगभग हर शहर मां के दर्शन करने पहुंचता है। नवरात्रि के दौरान यहां हर दिन एक कार्यक्रम का आयोजन किया जाता है।उत्तराखंड के नैनीताल में नैनी झील के किनारे स्थित है नैना देवी मंदिर जो भारत के हर ज़िले और शहर में प्रसिद्ध है। यह मंदिर भारत में स्थित 51 शक्तिपीठों में से एक माना जाता है।

यह मंदिर देवी सती की आंखों को समर्पित है। कहा जाता है कि मंदिर का निर्माण उसी स्थान पर किया गया था जहां देवी सती की आंखें धरती पर पड़ी थीं।कामाख्या देवी मंदिर विश्व प्रसिद्ध है। गुवाहाटी में नीलाचल पहाड़ी के बीच में यह मंदिर स्थित है। कामाख्या मंदिर, देवी दुर्गा के 51 शक्तिपीठों में से एक है। पौराणिक कथाओं में भी इस पवित्र मंदिर का उल्लेख मिलता है। नवरात्रि में यहां प्रतिदिन हजारों की संख्या में श्रद्धालु दर्शन के लिए पहुंचते हैं।हिमाचल प्रदेश में स्थित है चामुंडा देवी मंदिर जो कि भारत के प्रसिद्ध दुर्गा मंदिरों में से एक है।

यहां स्थापित देवी मां की मूर्ति को दुर्गा मां के सबसे शक्तिशाली अवतारों में  माना गया है। मंदिर के अंदर एक तालाब है जिसमें डुबकी लगाने से सारे पाप धुल जाते हैं। इसके अलावा करणी माता, राजस्थान के बीकानेर शहर में  है। इस मंदिर की अनूठी विशेषता मंदिर के अंदर रहने वाले चूहों की आबादी है। मां ब्रह्मचारिणी का मंदिर उत्तर प्रदेश के काशी में गंगा तट पर स्थित है। अंबा मंदिर गुजरात के जूनागढ़ में स्थित 51 शक्तिपीठों में से एक है। पौराणिक मान्यता के अनुसार अगर कोई नवविवाहित जोड़ा यहां जाता है तो उसकी सभी मनोकामनाएं पूरी होती हैं। नवरात्रि में यहां देश के कोने-कोने से लोग पहुंचते हैं।

From Around the web