प्राचीन भारत को एक बार फिर से जीने के लिए इन गाँवो में एक बार जरूर घूमने जाएं

प्राचीन भारत को एक बार फिर से जीने के लिए इन गाँवो में एक बार जरूर घूमने जाएं

 
v

गांवों में भारत बसता है यह कहावत एकदम सच्ची है जब आप गांवों की सैर करते हैं तो कहा जाता है कि हर 5 किलोमीटर पर खानपान रहन सहन और भाषा बदल जाती है इसी लिए भारत को विभिन्नताओं का देश कहा जाता है अगर आप भी प्राचीन भारत से एक बार फिर रूबरू होना चाहते हैं तो इन गांवों की एक बार जरूर सैर करें 

नेपुरा गांव बिहार

nv

नेपुरा गांव बिहार के नालंदा और राजगीर के मध्य स्थित है यह गांव कढ़ाई-बुनाई के लिए प्रसिद्ध है महावीर और गौतम बुद्ध नेपुरा में रुके थे और पहला उपदेश गौतम बुद्ध ने इस गांव में ही दिया था यह गांव अन्य विशेषताओं के लिए भी प्रसिद्ध है 

मत्तूर गांव

mv

मत्तूर गांव कर्नाटक के शिमोगा जिले में स्थित है ये अपनी विशेषता के लिए प्रसिद्ध है इस गाँव की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि हर व्यक्ति यहाँ संस्कृत में ही बात करता है आप जब कभी भी मत्तूर जाएंगे तो संस्कृत भाषा में ही आपका स्वागत किया जाएगा यहाँ लोग नदी किनारे मंत्र का जाप करते हैं 
 

मांडवा, राजस्थान

mv

राजस्थान अपनी संस्कृति और सभ्यता के लिए प्रसिद्ध है विदेशी पर्यटक अपनी यात्रा की शुरुआत राजस्थान से ही करते हैं झुंझुनू शहर में बसा मांडवा गांव अपनी विरासत के लिए जाना जाता है इस गांव में आप हवेली मीनार और प्राचीन इमारतों का दीदार कर सकते हैं 

From Around the web