इंडोनेशिया में है 'धरती का आखिरी स्वर्ग', पानी के नीचे छिपा मिला राजा अंपत

इंडोनेशिया में है 'धरती का आखिरी स्वर्ग', पानी के नीचे छिपा मिला राजा अंपत

 
p

30 साल पहले डचमैन मैक्स अम्मर को अपने मकान मालिक से द्वितीय विश्व युद्ध के एक जहाज के बारे में पता चला था जो इंडोनिशया के पानी में डूबा हुआ था जब उन्हें इस इस बारें में पता चला तब उनका चार महीने का सफर शुरू हुआ वह मछुआरों से बात करते हुए कई द्वीपसमूह से गुजरे द्वीपीय देश बेहद खूबसूरत होते हैं लेकिन सफर पे इंडोनिशया के वेस्ट पापुआ प्रांत के राजा अंपत ने मैक्स को हैरान कर दिया था राजा अंपत कोरल ट्राएंगल के केंद्र में स्थित है ये समुद्री संरक्षित क्षेत्र 4 मिलियन हेक्टेयर में फैला हुआ है और इसमें लगभग 1500 द्वीप शामिल हैं आज हम आपको राजा अंपत द्वीप समूह के कुछ रोचक तथ्य बताएंगे

p

राजा अंपत पृथ्वी पर सबसे समृद्ध समुद्री जैव विविधता वाली जगह है घूमने-फिरने के लिए ज्यादातर लोग मालदीव जाते हैं दूर होने की वजह से यहां आने वाले लोग बेहद कम है इस जगह को 'धरती का अंतिम स्वर्ग' कहा जाता है यहां 1600 से अधिक मछलियों की प्रजातिया है करीब 75 फीसदी कोरल प्रजातिया यहां पाई जाती हैं यहाँ खूबसूरत मूंगे के 'बगीचे' हैं 

p

कोंसर्वसी इंडोनेशिया के सीनियर वाइस प्रेसिडेंट मीजानी इरमाधियानी ने बताया कि 20 साल पहले राजा अंपत बर्बादी की कगार पर पहुंच गया था जिसका सबसे बड़ा कारण अनियंत्रित कमर्शियल फिशिंग थी यहाँ शार्क और कछुए का अवैध शिकार होता था 

p

फिर यहाँ एक इनिशिएटिव की शुरुआत हुई जिसके बाद से मछलियों की आबादी फिर से बढ़ गई बाहरी मछुआरों के अवैध शिकार में 90 फीसदी की कमी आई मूंगे पानी में वापस आने लगे और स्थानीय समुदायों के लिए भोजन और आजीविका में सुधार हुआ इन प्रयासों का असर हुआ और राजा अंपत मरीन पार्क जिसमें 20 लाख हेक्टेयर से अधिक क्षेत्र में फैले 10 संरक्षित इलाके हैं को ब्लू पार्क अवॉर्ड मिला राजा अंपत के जिन इलाकों में कभी मृत शार्कों के अवशेष मिला करते थे आज वहां समुद्री जीव वापस आ रहे है राजा अंपत में पानी के नीचे का जीवन गोताखोरों के लिए अब और अधिक आकर्षक और सुन्दर हो गया है

From Around the web