दक्षिण भारत के बटरफ्लाई फॉरेस्ट की ढेर सारी रंग बिरंगी तितलियां आपको आनंद दे सकती है

दक्षिण भारत के बटरफ्लाई फॉरेस्ट की ढेर सारी रंग बिरंगी तितलियां आपको आनंद दे सकती है

 
.

तितलियां अपने रंग हमारे जीवन के बेरंग जीवन को भी रंगीन कर देती है। तितलियों को देख कर मन को खुशी मिलती है। तो कैसा होगा जब एक साथ ढेर सारी रंग बिरंगी तितलियां देखने को मिले। दक्षिण-भारत में मौजूद बटरफ्लाई फॉरेस्ट में हजारों किस्म की तितलियां पाई जाती हैं। इस जंगल में सिर्फ हजारों किस्म की तितलियां ही नहीं बल्कि हजारों किस्म की पक्षी भी आप देख सकते हैं।

यह दक्षिण भारत के सबसे घने जंगलों में से एक है। कहा जाता है कि इस जंगल में कॉमन कैस्टर, कॉमन ग्लास यलो, कॉमन जे, प्लेन टाइगर, स्पॉटेड पैरट, लाइन ब्लू, बलका पेरट, डिंगी स्विफ्ट आदि तितलियां मौजूद हैं।जिस बटरफ्लाई फॉरेस्ट के बारे में हम आपसे जिक्र कर रहे हैं वो दक्षिण भारत के कर्नाटक शहर में मौजूद है।  यह घना जंगल कर्नाटक के कोडागु, मलनाड और दक्षिण कन्नड़ में फैला हुआ।

कहा जाता है कि जो भी व्यक्ति इस जंगल में घूमने के लिए पहुंचता वो दिन-भर इसी जंगल में घूमने के बाद ही घर वापस जाता है। कर्नाटक का बटरफ्लाई फॉरेस्ट 'बिसले घाट' के नाम से प्रसिद्ध है। कर्नाटक के पश्चिम भाग में फैले इस घने जंगल में कई किस्म की तितलियां पाई जाती हैं। घने जंगलों के बीच में नदी होने के चलते यहां मानसून के समय प्रवासी तितलियां भी दिखाई देते हैं। इस खूबसूरत जंगल में आप कई फन एक्टिविटीज का भी लुत्फ़ उठा सकते हैं।

इस घने जंगल के बीच में मोटरसाइकिल या कार से सफ़र करना कई लोग पसंद करते हैं। इस घने जंगल में पानी की कई धरा है जिसे देखने के लिए हजारों सैलानी पहुंचते रहते हैं। इस जंगल के अंदर ट्रैकिंग का भी लुत्फ़ उठा सकते हैं। बिसले घाट में कई व्यू पॉइंट्स भी मौजूद हैं जहां आप जा सकते हैं। बता दें कि यह फ़ॉरेस्ट पिकनिक स्थल के रूप में भी काफी फेमस है।

From Around the web