Pakistan - 1992 में खराब शुरुआत के बाद भी जीता खिताब , इस बार भी अचानक चमकी किस्मत

Pakistan - 1992 में खराब शुरुआत के बाद भी जीता खिताब , इस बार भी अचानक चमकी किस्मत

 
p

क्रिकेट को अनिश्चितताओं का खेल कहा जाता है। कब क्या होगा कहा नहीं जा सकता । हम पाकिस्तान की बात कर रहे हैं। जब किसी बड़े टूर्नामेंट में यह टीम पूरी तरह खारिज होने लगती है तब कभी किस्मत तो कभी मेहनत के दम पर अचानक वापसी कर लेती है। इस टी-20 वर्ल्ड कप में भी ऐसा ही देखने को मिला। 

p

पहले भारत और फिर जिम्बाब्वे से हारकर पाकिस्तान टूर्नामेंट से लगभग बाहर हो चुका था। यहां से इनकी किस्मत पलटती है और पाकिस्तान सेमीफाइनल में पहुंच जाता है। टीम लगातार तीन मैच जीत लेती है। ऐसा पहली बार नहीं हुआ है कि पाकिस्तान ने इस अंदाज में वापसी की है। इससे पहले भी ऐसा हो चुका है।

p

1992 वनडे वर्ल्ड कप से हुई थी शुरुआत

1992 का वर्ल्ड कप ऑस्ट्रेलिया में खेला गया था। पाकिस्तान ने ग्रुप स्टेज में 8 मुकाबले खेले। पहले मैच में वेस्टइंडीज से हार मिली। दूसरे मैच में जिम्बाब्वे से टीम जीत गई । तीसरा मैच इंग्लैंड से हुआ। पाकिस्तान की टीम 74 रन पर ही ऑलआउट हो गई। हार तय थी लेकिन तभी बारिश ने मैच रोक दिया। पाकिस्तान को फोकट में एक अंक मिल गया।

p

अगले दो मुकाबलों में भारत और साउथ अफ्रीका से हार मिली। पांच मैचों में सिर्फ एक जीत और 3 अंक थे पाकिस्तान के पास। यह मान लिया गया था कि इमरान की टीम सेमीफाइनल में नहीं पहुंचेगी लेकिन इसके बाद पाकिस्तान लगातार 3 मैच में जीत गई। पाकिस्तान 9 अंकों के साथ सेमीफाइनल में पहुंच चुका था। सेमीफाइनल में पहुंचने वाली चार टीमों में सबसे कम अंक पाकिस्तान के ही थे। सेमीफाइनल में न्यूजीलैंड को हराया और फाइनल में इंग्लैंड को हराकर पहली बार वनडे वर्ल्ड कप का खिताब जीत लिया।

From Around the web