जोस बटलर ने किया प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट का चुनाव जानिए कौन से क्रिकेटर आएंगे इसमें

जोस बटलर ने किया प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट का चुनाव जानिए कौन से क्रिकेटर आएंगे इसमें

 
.
इस बार भारतीय क्रिकेट टीम टी20 वर्ल्ड कप 2022 में खिताब से दो जीत दूर थी। यानी सेमीफाइनल में टीम इंडिया को इंग्लैंड के हाथों 10 विकेट से हार का सामना करना पड़ा था। इस विश्व कप से बाहर होने के बाद भी भारतीय खिलाड़ी टूर्नामेंट में बने हुए हैं। टाइटल तो सही नहीं है, लेकिन प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट का अवॉर्ड भारतीय टीम के खाते में जरूर आ सकता है। दरअसल, इंटरनेशनल क्रिकेट काउंसिल (ICC) ने प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट अवॉर्ड के लिए 9 खिलाड़ियों को शॉर्टलिस्ट किया था। इसमें सबसे ऊपर विराट कोहली का नाम है। उनके बाद दूसरे नंबर पर सूर्यकुमार यादव भी हैं। अब वोटिंग के आधार पर इनमें से केवल एक का चयन इस प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट के लिए किया जाएगा।
.

बटलर और बाबर ने किसको बताया दावेदार

फाइनल मैच के बाद प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट का पुरस्कार दिया जाएगा। यह खिताबी मुकाबला आज (13 नवंबर) पाकिस्तान और इंग्लैंड के बीच होना है। लेकिन फाइनल से पहले इंग्लैंड के कप्तान जोस बटलर ने इस प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट अवॉर्ड के लिए सूर्यकुमार यादव को अपनी पसंद बताया है। जबकि पाकिस्तानी कप्तान बाबर आजम कुछ और ही मानते हैं।बाबर ने अपनी ही टीम के ऑलराउंडर शादाब खान को इस अवॉर्ड का दावेदार बनाया है।

.

बटलर को पसंद आया सूर्या का बैटिंग स्टाइल

जोस बटलर ने कहा, मुझे लगता है कि उन्होंने सबके अलावा खुलकर क्रिकेट खेला है। स्टार खिलाड़ियों से सजी इस लाइन-अप (वर्ल्ड कप) में सूर्या ने सबका ध्यान अपनी ओर खींचा है।उन्होंने जिस तरह से खेला वह अद्भुत है। बेशक, हमारे पास उस शीट में सैम कुरेन और एलेक्स हेल्स जैसे कुछ खिलाड़ी भी हैं। अगर वह फाइनल में अच्छा प्रदर्शन करता है तो वह मेरे लिए प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट हो सकता है।

.

बाबर आजम ने लिया शादाब का नाम

इसके उलट बाबर आजम ने कहा, 'मुझे लगता है कि वह जिस तरह से खेल रहा है, वह शादाब खान होना चाहिए। उनकी गेंदबाजी बेहतरीन रही है। बल्लेबाजी में भी सुधार हुआ है। पिछले तीन मैचों में उन्होंने जिस तरह से शानदार प्रदर्शन किया और जिस तरह से उन्होंने शानदार फील्डिंग की। इसके मुताबिक उन्हें प्लेयर ऑफ द टूर्नामेंट होना चाहिए।

कोहली सीजन के अब तक के टॉप स्कोरर हैं

कोहली ने इस सीजन में 6 मैच खेले, जिसमें 98.66 की शानदार औसत से 296 रन बनाए। इस दौरान उन्होंने 4 अर्धशतक भी लगाए। दूसरे नंबर पर काबिज सूर्या ने भी इस वर्ल्ड कप में 6 मैच खेले, जिसमें 59.75 की औसत से 239 रन बनाए। सूर्य ने इस दौरान कुल 3 अर्धशतक लगाए।

From Around the web