यदि आपको भी है यह लक्षण तो आप भी हो सकते है प्रोस्टेट कैंसर का शिकार

यदि आपको भी है यह लक्षण तो आप भी हो सकते है प्रोस्टेट कैंसर का शिकार

 
.

विश्व स्वास्थ्य संगठन की रिपोर्ट के मुताबिक 2020 में 10 मिलियन लोगों की मौत कैंसर से हुई है। वही बात की जाए अगर प्रोस्टेट कैंसर की तो इस साल इस से पीड़ित लोग 1.41 मिलियन लोग पाए गए हैं। हालांकि यह कैंसर 60 परसेंट मामलों में 65 साल से ऊपर की उम्र वाले लोगों में ही पाया जाता है और ज्यादातर इसके शिकार पुरुष ही होते हैं। यह कैंसर ज्यादातर या तो जेनेटिक या फिर मोटापे जैसे कारणों की वजह से पाए जाते हैं। इसका सबसे गंभीर और महत्वपूर्ण विशेषता है कि यह प्रोस्टेट के बाहर फैल सकता है।

परंतु साथ ही इसका इलाज भी संभव है। लेकिन तभी जब इसका पता शुरुआत में ही पता लगवा लिया जाए। यह कैंसर पुरुषो में पाती जाने वाली अखरोट आकार की प्रोस्टेट नाम को ग्रंथि में पाया जाता है।इसका कोई खास कारण नही है परंतु यह बीमारी तभी शुरू होती है जब इस ग्रंथि में कोशिकाएं नियंत्रण से बाहर हो जाती है और साथ ही अपने डीएनए में परिवर्तन विकसित करती है।

यह कैंसर फैल जाता है तो उसके कुछ लक्षण दिखाई देते हैं जैसे की हड्डियों में दर्द होना ,अत्यधिक थकान होना , अस्वस्थ होने की समय भावना और अस्पष्टीकरण वजन कम होना। इसके अलावा कहा जाता है कि यदि आपके पैरों में सूजन है तो यह भी प्रोस्ट्रेट कैंसर के ही लक्षण है। सूजन को लिंफोएडिमा कहा जाता है। इसके अलावा भी एक आंसर हड्डियों,आंतों, यकृत और फेफड़ों में भी फैल सकता है। परंतु ध्यान रखिए कि यह जरूरी नहीं कि आपके पैरों में सूजन है तो आपको प्रोस्टेट कैंसर ही है।

इसके अलावा भी कोई भी समस्या हो सकती है।यह कैंसर आमतोर पर मूत्र से संभातित लक्षणों का कारण बनती है।जैसे की बार बार पेशाब आना,रात को अत्याधिक पेशाब आना,पेशाब करने में कठिनाई होना,एजेकुलेटिन में कठिनाई होना,मूत्राशय पर दबाब महसूस होना,या फिर मूत्र में खून आना सभी इसके लक्षणों में आते है।

From Around the web