नहीं छोड़ पा रहे हैं शराब अपनाई है यह तरीके झट से छूट जाएगी

नहीं छोड़ पा रहे हैं शराब अपनाई है यह तरीके झट से छूट जाएगी

 
.

कौन नहीं चाहता कि शराब की लत कम हो... लेकिन यह एक ऐसी शराब है जो छूटने का नाम ही नहीं लेती। लेकिन अब शराब छोड़ना या कम करना संभव है।बहुत अधिक शराब पीने से न केवल कैंसर होता है, बल्कि अत्यधिक शराब के सेवन से समय से पहले मौत, हृदय रोग, पाचन संबंधी समस्याएं और मनोभ्रंश का खतरा सहित दर्जनों समस्याएं हो सकती हैं। हालांकि एक निश्चित मात्रा में शराब का सेवन आपकी लत को कम कर सकता है।

ऐसे कम कर पाएंगे शराब

द जॉर्ज इंस्टीट्यूट फॉर ग्लोबल हेल्थ के अर्थशास्त्री और मनोवैज्ञानिक सिमोन पेटीग्रेव ने कहा, "अगर आप सीमित मात्रा में इनका सेवन करते हैं, तो यह आपके शरीर को नुकसान नहीं पहुंचाता है। लेकिन आपको अपनी सीमा तय करनी होगी। आमतौर पर अगर आप 4 गिलास शराब पीते हैं पहले दिन में।" धीरे-धीरे आप इसे 3 और फिर 2 गिलास तक ला सकते हैं। यह तभी संभव है जब लोगों को शराब से होने वाले नुकसान का सही अंदाजा हो, वयस्कों को शराब के खतरे से बचने के लिए हफ्ते में 10 ड्रिंक से ज्यादा नहीं पीना चाहिए और नहीं एक दिन में चार से अधिक पेय।read also:ग्लोइंग स्किन के लिए तारा सुतारिया ने शेयर किया दादी का बनाया हुआ फेस पैक

अध्ययन कैसे किया गया

इस स्टडी में कुल 7995 लोगों को शामिल किया गया था। ये वो लोग थे जो रोज शराब पीते थे। तीन हफ्ते तक चले इस अध्ययन में लोगों को हर पेग से खतरे के बारे में बताया गया। दूसरे सप्ताह तक, आधे से अधिक लोगों ने शराब पीना छोड़ दिया था। इस स्टडी में शामिल लोगों को दो ग्रुप में बांटा गया था। एक को एक टीवी विज्ञापन दिखाया गया है। जिसमें शराब से होने वाले कैंसर व अन्य बीमारियों के बारे में बताया। साथ ही ये भी बताते थे कि आप अपने ड्रिंक्स की गिनती कैसे कर सकते हैं। आप इसे नियंत्रित कर सकते हैं। इससे उन लोगों की शराब पीने की आदत कम हो गई। शोधकर्ताओं का मानना ​​था कि यह शराब की लत को कम करने के सबसे प्रभावी तरीकों में से एक था।

कार्सिनोजेन कैंसर का कारण बनता है

बहुत से लोग नहीं जानते कि शराब एक कार्सिनोजेन है। कार्सिनोजन वे तत्व होते हैं जिनके शरीर में प्रवेश से कैंसर का खतरा बढ़ जाता है। यह एक रासायनिक पदार्थ, एक वायरस या विकिरण हो सकता है। शोध नेता पेटीग्रेव ने कहा: "कार्सिनोजेन्स सीधे हमारी कोशिकाओं में जाते हैं और डीएनए को नुकसान पहुंचाते हैं। यह महत्वपूर्ण जानकारी है जो पीने वालों तक पहुंच होनी चाहिए, लेकिन लोगों को यह बताने के बजाय कि शराब कैंसर का कारण बनती है, लोग इसके आदी हो जाते हैं।" कम करने के तरीकों पर भी काम करने की जरूरत है।

From Around the web