Siddarth Sharma को बनाया टाटा ट्रस्ट का नया CEO, Aparna Uppaluri बनी चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर

Siddarth Sharma को बनाया टाटा ट्रस्ट का नया CEO, Aparna Uppaluri बनी चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर

 
.

पूर्व नौकरशाह सिद्धार्थ शर्मा को टाटा ट्रस्ट का नया सीईओ नियुक्त किया गया है। फोर्ड फाउंडेशन की पूर्व अधिकारी अपर्णा उप्पलुरी को मुख्य परिचालन अधिकारी (सीओओ) बनाया गया है। सीईओ और सीओओ दोनों पदों पर नियुक्तियां 1 अप्रैल, 2023 से प्रभावी होंगी। टाटा ट्रस्ट ने यह जानकारी दी है।

सिद्धार्थ शर्मा एन श्रीनाथ की जगह लेंगे

सिद्धार्थ शर्मा एन श्रीनाथ की जगह लेंगे, जिन्होंने पिछले साल अपनी सेवानिवृत्ति के बाद सीईओ के पद से इस्तीफा दे दिया था। 54 साल के सिद्धार्थ शर्मा दो दशकों तक भारत सरकार के अलग-अलग मंत्रालयों में अहम पदों पर रहे हैं. वे 13वें और 14वें राष्ट्रपति के वित्तीय सलाहकार भी रह चुके हैं। बाद में वे टाटा समूह से जुड़ गए। वह वहां नवगठित सस्टेनेबिलिटी पोर्टफोलियो का नेतृत्व कर रहे हैं।read also:Republic day: 74वे गणतंत्र दिवस पर आमंत्रित किए गए 1000 विशेष अतिथि

अपर्णा उप्पलूरी

फोर्ड फाउंडेशन के बाद अब अपर्णा उप्पलूरी टाटा ट्रस्ट का हिस्सा बनने जा रही हैं और उन्हें चीफ ऑपरेटिंग ऑफिसर बनाया गया है। अपर्णा (48) वर्तमान में फोर्ड फाउंडेशन में भारत, नेपाल और श्रीलंका के कार्यक्रम निदेशक के रूप में तैनात हैं। टाटा ट्रस्ट्स ने कहा कि अपर्णा उप्पलुरी एक सम्मानित पेशेवर हैं, जिन्हें चैरिटी, महिलाओं के अधिकार, सार्वजनिक स्वास्थ्य, कला और संस्कृति के क्षेत्र में रणनीतिक योजना और कार्यक्रम विकास का अच्छा ज्ञान है। नेतृत्व और प्रबंधन के 20 से अधिक वर्षों के अनुभव के साथ, उन्होंने फोर्ड फाउंडेशन में लैंगिक न्याय के लिए बड़े पैमाने पर काम किया है।

होल्डिंग

टाटा संस में टाटा ट्रस्ट की 66 फीसदी हिस्सेदारी है। जो टाटा समूह की समूह कंपनियों की होल्डिंग कंपनी है। रतन टाटा की इच्छा रही है कि टाटा ट्रस्ट कुपोषण, कैंसर उपचार, स्वच्छता और शिक्षा जैसे महत्वपूर्ण क्षेत्रों में काम करे। जिन लोगों को ट्रस्ट का नेतृत्व करने के लिए चुना गया है, उनके पास इस तरह के क्षेत्रों का ज्ञान और अनुभव है।

From Around the web