Satellite Internet - अब से भारत में इंटरनेट सेवा देगा ISRO, इंटरनेट की दुनिया में आने वाले हैं बड़े बदलाव

Satellite Internet - अब से भारत में इंटरनेट सेवा देगा ISRO, इंटरनेट की दुनिया में आने वाले हैं बड़े बदलाव

 
.

सैटेलाइट के जरिए लोगों तक Internet पहुंचाने के लिए Hughes Communications India ने इंडियन स्पेस रिसर्च ऑर्गेनाइजेशन यानी ISRO के साथ पार्टनरशिप की थी।अब कंपनी ने यह घोषणा की है कि पहली हाई-थ्रोपुट सैटेलाइट (HTS) ब्रॉडबैंड सर्विस जिसे ISRO पावर्ड कर रहा है उसे अब कॉर्मशियली लॉन्च कर रहे हैं। इसके चलते देश को पहली सैटेलाइट इंटरनेट सर्विस मिल रही है।ये ऐसे समय पर भारत में आया है जब Elon Musk की कंपनी Starlink ने अपना ऑपरेशन  बंद कर दिया।

सरकार ने जरूरी लाइसेंस नहीं लेने की वजह से इस पर बैन लगा दिया। लेकिन अब ISRO के माध्यम से पूरे भारत में हाई-स्पीड ब्रॉडबैंड सर्विस डिलीवर की जाएगी। इससे एंटरप्राइजेज और गवर्नमेंट नेटवर्क को भी कनेक्ट किया जाएगा।  ISRO के डिपार्टमेंट ऑफ स्पेस के चेयरमैन सेक्रेटरी Dr S Somnath का कहना है कि ISRO में  प्राइवेट सेक्टर के साथ काम करने के तरीकों को एक्सप्लोर किया जा रहा हैं ताकि लोगों की लाइफ को इम्प्रूव किया जा सके। 

उन्होंने  बताया कि श HCI लगातार बढ़िया क्वालिटी सैटेलाइट ब्रॉडबैंड सर्विस डिलीवर कर पाएगा जिससे देश में कनेक्टिविटी एक्सपीरिएंस को और ज्यादा इम्प्रूव किया जाएगा। इससे देश की डिजिटल ट्रांसफॉर्मेशन में भी तेजी आ पाएगी। HCI सैटेलाइट ब्रॉडबैंड, 2 लाख से भी अधिक बिजनेस और सरकारी साइट को दे रहा है।  इसी के साथ  एंटरप्राइजेज और स्ट्रेटेजिक सेंट्रल और राज्य सरकार के प्रोजेक्ट को भी सपोर्ट किया  है जिसके लिए कंपनी 75 से ज्यादा सैटेलाइट का इस्तेमाल कर रही है।

Hughes की HTS ब्रॉडबैंड सर्विस ISRO के Ku-बैंड कैपिसिटी GSAT-11 और GSAT-29 सैटेलाइट से लेकर हाई स्पीड इंटरनेट सर्विस देने तक का दावा कर रही है। इससे रिमोट एरिया में भी इंटरनेट की पहुंच आसानी से हो सकती है। ये  कम्युनिटी इंटरनेट एक्सेस के लिए Wi-Fi हॉटस्पॉट, मैनेज्ड SD-WAN सॉल्यूशन, मोबाइल नेटवर्क रीच बढ़ाने के लिए और छोटे बिजनेस के लिए सैटेलाइट इंटरनेट जैसे एप्लीकेशन को भी सपोर्ट करने में सक्षम है।

From Around the web