पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को अपने पसंदीता जनरल को आर्मी चीफ बनाने पर हुई जेल,पूछ ताछ है जारी

पाकिस्तान के प्रधानमंत्री को अपने पसंदीता जनरल को आर्मी चीफ बनाने पर हुई जेल,पूछ ताछ है जारी

 
.

पाकिस्तान में सेना प्रमुख की नियुक्ति को लेकर कोहराम मच गया है। इस बारे में प्रधानमंत्री शाहबाज शरीफ ने अपने भाई और पूर्व पीएम नवाज से भी बात की है। इमरान खान ने हाल ही में कहा था कि जनरल कमर जावेद बाजवा का कार्यकाल बढ़ाया जाना चाहिए। 2016 में सेना प्रमुख बने जनरल बाजवा का कार्यकाल साल 2019 में तीन साल के लिए बढ़ा दिया गया था।पाकिस्तान में दो ऐसे प्रधानमंत्री रहे हैं जिन्होंने अपनी पसंद के जनरल को चुना है।

उनमें से एक को फांसी पर लटका दिया गया और एक को सत्ता से बाहर कर दिया गया। जानकारों का मानना ​​है कि अपनी पसंद के सेनाध्यक्ष को चुनना प्रधानमंत्री के लिए खतरनाक साबित हो सकता है।जुल्फकार अली भुट्टो पाकिस्तान के नौवें प्रधानमंत्री थे। 1 मार्च 1976 को बेनजीर के पिता जुलीफकर ने जनरल जिया-उल-हक को सेना प्रमुख के रूप में चुना।उनके नाम की घोषणा होते ही वे फोर स्टार रैंक पर आ गए। इस नाम को लेकर कई लोगों ने नाराजगी जताई।

जनरल जिया के अलावा जनरल माजिद मलिक भुट्टो के भी चहेते लेकिन उनका नाम इंटरनेशनल होटल कांड में आया था।5 जुलाई 1977 को देश में तख्ता पलटा। भुट्टो के पसंदीदा सेना प्रमुख जनरल जिया-उल-हक ने उन्हें सत्ता से बेदखल कर दिया। जनरल जिया ने भुट्टो को गिरफ्तार कर जेल में डाल दिया था। इसके बाद 18 दिसंबर 1978 को भुट्टो को हत्या का दोषी करार दिया गया। भुट्टो को 4 अप्रैल 1979 को रावलपिंडी की सेंट्रल जेल में फांसी दी गई थी। आज भी पाकिस्तान के राजनेता कहते हैं कि भुट्टो को अपनी एक गलती की सजा भुगतनी पड़ी।

नवाज शरीफ तीन बार देश के प्रधानमंत्री रह चुके हैं और उनके कार्यकाल में चार सेना प्रमुखों की नियुक्ति हुई थी। 1999 में तत्कालीन सेना प्रमुख जनरल परवेज मुशर्रफ ने अपनी सरकार को सत्ता से बेदखल कर दिया था। देश में सैन्य शासन आया और शरीफ को जेल भेज दिया गया। जनरल मुशर्रफ का मानना ​​था कि शरीफ की नीतियों के कारण ही कारगिल युद्ध में भारत की हार हुई थी।जनरल बाजवा को भी शरीफ ने ही नियुक्त किया था। यह और भी दिलचस्प है कि वह जनरल बाजवा को अपनी सत्ता गंवाने के लिए भी जिम्मेदार ठहराते हैं। जनरल बाजवा का कार्यकाल इमरान खान ने बढ़ाया था।

From Around the web