ऑक्‍सफर्ड ने की मलेरिया की नई वैक्‍सीन डेवेलोप , भारत बनाएगा 10 करोड़ डोज, 80 फीसदी देगी सुरक्षा

ऑक्‍सफर्ड ने की मलेरिया की नई वैक्‍सीन डेवेलोप , भारत बनाएगा 10 करोड़ डोज, 80 फीसदी देगी सुरक्षा

 
v

ऑक्‍सफर्ड यूनिवर्सिटी ने मलेरिया की नई वैक्‍सीन त्यार की है ये दुनिया की सबसे प्रभावी वैक्‍सीन है अगले साल तक यह वैक्‍सीन बाजार में आ जाएगी इस वैक्सीन से मलेरिया से 80 फीसदी तक सुरक्षा मिलने की बात कही गई है यह वैक्‍सीन काफी सस्‍ती है हर साल इसकी 100 मिलियन डोज तैयार की जाएगी 

v

इस वैक्‍सीन से बच्‍चों को मलेरिया से होने वाली मौतों से बचाना है इस वैक्सीन से मलेरिया को पूरी तरह से खत्‍म किया जा सकता है मलेरिया की इस दवाई को तैयार करने में काफी ज्‍यादा वक्‍त लग गया है मच्‍छरों से फैलने वाली यह बीमारी काफी खतरनाक मानी जाती है बीमारी शरीर के अंदर ही कई तरह के रूप ले लेती है और इस वजह से इससे बचना काफी ज्यादा नामुमकिन माना जाता है 

m

ऑक्‍सफोर्ड के वैज्ञानिकों का दावा है कि उनकी वैक्‍सीन काफी ज्‍यादा प्रभावी है और इसे बड़े पैमाने पर तैयार किया जा सकता है इसका ट्रायल 409 बच्‍चों पर किया गया था इसके नतीजे लैंसेट इनफेक्शियस डिजीजेस में पब्लिश हुए हैं इसकी शुरुआती तीन खुराक और एक बूस्‍टर के बाद 80 फीसदी तक की सुरक्षा मिलती है

p

टीम की तरफ से वैक्‍सीन के लिए मंजूरी लेने का काम अगले कुछ दिनों में शुरू हो जाएगा मगर अंतिम निर्णय इस साल के अंत में 4800 बच्‍चों पर ट्रायल के बाद लिया जाएगा सीरम इंस्‍टीट्यूट ने पहले ही इसके 100 मिलियन डोज तैयार करने की डील कर ली है वैक्‍सीन का नाम R21 है और इसे सिर्फ कुछ डॉलर्स में ही तैयार किया जा सकता है इस वैक्‍सीन को लोगों की जिंदगियां बचाने और हर किसी को आसानी से उपलब्‍ध कराने के मकसद से डेवलप किया जा रहा है मलेरिया की वजह से नवजात बच्‍चों और शिशुओं की मौत हो जाती है मलेरिया से हर साल दुनियाभर में करीब 400000 लोग मारे जाते हैं

From Around the web