Onam Festival - आज मनाया जाएगा ओणम , जानिए क्या है इस पर्व का महत्व और कथा

Onam Festival - आज मनाया जाएगा ओणम , जानिए क्या है इस पर्व का महत्व और कथा

 
onam

गुरुवार यानि आज ओणम का पर्व मनाया जाएगा ये पर्व दक्षिण भारत के केरल राज्य में धूमधाम से मनाया जाता है ये त्योहार 10 दिनों तक चलता है इसकी शुरुआत 30 अगस्त से हो गई है ओणम का पर्व मलयालम कैलेंडर के अनुसार चिंगम महीने में मनाया जाता है ये मलयालम कैलेंडर का पहला महिना होता है जो अगस्त-सितंबर महीने के बीच में आता है 

p

ओणम यानी थिरुओणम के दिन राजा महाबली अपनी समस्त प्रजा से मिलने के लिए आते हैं जिसकी खुशी में ये ये त्योहार मनाया जाता है केरल राज्य में इसका अलग ही महत्व है इस पर्व को मनाने के लिए यहाँ देश-विदेश से लोग आते हैं आइए जानते हैं ओणम पर्व के बारे में इसके पहले दिन को अथम और दसवें दिन को थीरुओणम कहा जाता है ये उल्लास उमंग और परंपराओं का त्योहार है इस दिन केरल में सर्प नौका दौड़ और कथकली नृत्य का आयोजन भी किया जाता है

o

राजा बलि दानी थे एक बार उन्होंने स्वर्ग पर अधिकार करने के लिए विशाल यज्ञ का आयोजन किया देवताओं को जब पता चला कि स्वर्ग पर अधिकार करने के लिए बलि यज्ञ कर रहे हैं तो वे भगवान विष्णु के पास गए देवताओं की सहायता के लिए भगवान विष्णु वामन रूप में राजा बलि के पास गए और उनसे तीन पग भूमि दान में मांगी राजा बलि ने भगवान विष्णु को तीन पग भूमि दे दिया

p

दो पगों में ही भगवान विष्णु ने सारे लोकों को नाप दिया तीसरे पग के लिये कुछ नहीं बचा तो बलि ने अपना शीष उनके पग के नीचे कर दिया उसके बाद भगवान विष्णु की कृपा से राजा बलि पाताल लोक में रहने लगे और हर साल थिरुवोनम के दिन अपनी प्रजा से मिलने आते हैं 

From Around the web