रतन टाटा के हाथों बिकी अब ये बड़ी सरकारी कंपनी, 2 साल बाद अब खुलने को तैयार

रतन टाटा के हाथों बिकी अब ये बड़ी सरकारी कंपनी, 2 साल बाद अब खुलने को तैयार

 
rt

निजीकरण के खिलाफ हो रहे विरोध के बावजूद सरकार ने एक और बड़ी कंपनी को निजी हाथों में सौंप दिया है इस बड़ी कंपनी की कमान रतन टाटा के हाथ में दी गई है ये कंपनी घाटे में चली रही थी और यह 2 साल से बंद है लेकिन अब इस कंपनी की किस्मत बदलने वाली है और दो साल बाद यह कंपनी खुलने को तैयार है 

ts

करीब दो साल से बंद पड़ी है सरकारी कंपनी नीलाचल इस्पात निगम लिमिटेड टाटा स्टील के सीईओ और मैनेजिंग डायरेक्टर टीवी नरेंद्रन ने बताया कि नीलाचल इस्पात के कारखाने को अगले तीन महीने में शुरू करने का लक्ष्य है यानी कंपनी अब जल्दी ही खुलेगी 'हम मौजूदा कर्मचारियों के साथ बंद पड़े कारखाने को दोबारा से शुरू करने को तैयार हैं हमें अगले तीन महीने में उत्पादन शुरू होने और अगले 12 महीने में स्थापित क्षमता प्राप्त कर लेने की उम्मीद है टाटा स्टील एनआईएनएल की क्षमता बढ़ाकर 50 लाख टन करने और इसके लिये जरूरी मंजूरी हासिल करने को लेकर भी कदम उठाएगी'

n

ओडिशा स्थित नीलाचल इस्पात निगम लिमिटेड (NINL) को टाटा ग्रुप (Tata Group) की एक फर्म को सौंपा गया है नीलाचल इस्पात निगम लिमिटेड का कलिंगनगर ओडिशा में 1.1 मीर्ट‍िक टन क्षमता वाला एक इंटीग्रेटेड स्टील प्लांट है

n

यह सरकारी कंपनी घाटे में चल रही है और यह प्लांट 30 मार्च, 2020 से बंद है कंपनी पर 31 मार्च 2021 को 6600 करोड़ रुपये से ज्‍यादा का कर्ज हैं इसमें प्रमोटरों का 4116 करोड़ रुपये बैंकों का 1,741 करोड़ रुपये और अन्य लेनदारों और कर्मचारियों का भी बकाया शामिल है

From Around the web