Inflation Rate: आरबीआई गवर्नर ने जताई इन्फ्लेशन रेट्स को लेकर चिंता, बताई देश में महंगाई की वजह

Inflation Rate: आरबीआई गवर्नर ने जताई इन्फ्लेशन रेट्स को लेकर चिंता, बताई देश में महंगाई की वजह

 
.

भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के गवर्नर शक्तिकांत दास ने कीमतों में बढ़ोतरी को एक बड़ी चुनौती करार दिया और उम्मीद जताई कि अक्टूबर में महंगाई दर 7 फीसदी से कम रहेगी। खुदरा महंगाई सितंबर में बढ़कर 7.4 फीसदी हो गई, जो अगस्त में 7 फीसदी थी। यह खाद्य और ऊर्जा उत्पादों की कीमतों में वृद्धि के कारण था। दास ने अक्टूबर के लिए मुद्रास्फीति दर में कमी की इस उम्मीद के लिए सरकार और आरबीआई द्वारा पिछले छह-सात महीनों में किए गए उपायों को जिम्मेदार ठहराया।

.

महंगाई दर से आर्थिक विकास पर पड़ेगा असर

महंगाई दर से आर्थिक विकास पर पड़ेगा असर उन्होंने एक कार्यक्रम के दौरान कहा कि महंगाई को दो से छह फीसदी के दायरे में रखने के लक्ष्य को बदलने की जरूरत नहीं है क्योंकि छह फीसदी से ज्यादा की महंगाई दर आर्थिक वृद्धि को प्रभावित करेगी।सरकार ने महंगाई दर को दो से छह फीसदी के दायरे में रखने की जिम्मेदारी आरबीआई गवर्नर की अध्यक्षता वाली मौद्रिक नीति समिति (एमपीसी) को दी है।

.

अक्टूबर के आंकड़े 7 फीसदी से कम होंगे 

भारतीय अर्थव्यवस्था पर आरबीआई गवर्नर ने कहा कि वैश्विक उथल-पुथल के बीच भारत के समग्र मैक्रो-इकोनॉमिक फंडामेंटल्स मजबूत बने हुए हैं और आर्थिक विकास की संभावनाएं अच्छी दिख रही हैं। उन्होंने कहा, "हम उम्मीद करते हैं कि अक्टूबर के लिए मुद्रास्फीति की दर 7 फीसदी से कम रहेगी।" मुद्रास्फीति एक चिंता का विषय है जिससे अब हम प्रभावी ढंग से निपट रहे हैं।

.

आंकड़े सोमवार को जारी होंगे

महंगाई कम करने के लिए कई कदम उठाए अक्टूबर माह के महंगाई के आंकड़े सोमवार को जारी होंगे। उन्होंने कहा कि पिछले छह या सात महीनों में आरबीआई और सरकार दोनों ने महंगाई कम करने के लिए कई कदम उठाए हैं। दास ने कहा कि आरबीआई ने अपनी तरफ से ब्याज दरें बढ़ाई हैं और सरकार ने आपूर्ति पक्ष से जुड़े कई कदम उठाए हैं।

From Around the web