केंद्र ने बीएसएनएल को टीसीएस के साथ 26,821 करोड़ रुपये के 4G सौदे को मंजूरी दी

केंद्र ने बीएसएनएल को टीसीएस के साथ 26,821 करोड़ रुपये के 4G सौदे को मंजूरी दी

 
.

भारत की अपनी सरकारी दूरसंचार सेवा कंपनी BSNL लोगों को जल्द हाई स्पीड इंटरनेट मोबाइल पर देना शुरू कर देगी. सरकार ने इसके लिए BSNL और TCS के बीच डील को मंजूरी दे दी है। उपभोक्ताओं को जल्द बाजार रेट से सस्ते और बेहतर सेवाओं का लाभ जल्द मिलना शुरू हो जाएगा।

भारत संचार निगम लिमिटेड (बीएसएनएल) को टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज (टीसीएस) के साथ 26,821 करोड़ रुपये के सौदे के साथ भारत में 4 जी सेवाओं को लॉन्च करने का मार्ग प्रशस्त करने के लिए केंद्र सरकार से मंजूरी मिली। टीसीएस 4जी लाइन लगाने और नौ साल तक नेटवर्क बनाए रखने को तैयार है।बीएसएनएल जल्द ही टीसीएस को 10,000 करोड़ रुपये के खरीद ऑर्डर देगी। सरकारी दूरसंचार कंपनी दिसंबर 2022 या जनवरी 2023 तक अपनी 4जी सेवाएं शुरू करने का लक्ष्य रखेगी।

टीसीएस के मुख्य परिचालन अधिकारी एन गणपति सुब्रमण्यम ने हाल ही में ईटी को बताया था कि बीएसएनएल के साथ सौदा आईटी सेवा प्रदाता को संभावित वैश्विक ग्राहकों के लिए अपनी दूरसंचार पेशकश करने और नोकिया, एरिक्सन और सैमसंग जैसे नेटवर्क गियर निर्माताओं के साथ प्रतिस्पर्धा करने की अनुमति देगा।

BSNL चालू कर रहा अपना हाई स्पीड डाटा नेटवर्क

BSNL 4G नेटवर्क भारत भर में लांच करने जा रहा है इसकी पूरी जिम्मेदारी टाटा कंसलटेंसी सर्विस (TCS) को दी गई है. 11.1 करोड़ उपभोक्ताओं को इसका सीधा लाभ मिलेगा BSNL के सिम पर दिसंबर से लेकर जनवरी तक पूरे देश भर में 4G नेटवर्क मिलना शुरू हो जाएगा. इसके लिए सरकार ने 26821 करोड़ का डी को मंजूर किया है

BSNL भी शुरू करेगा 5G Network

नए नेटवर्क को लेकर बीएसएनएल ने टीसीएस को 100000 टावर लगाने को कहा है. इसके साथ ही बीएसएनएल 2023 के अगस्त तक 5G सेवाओं को भी लॉन्च करने के लिए कमर का का है और इसमें पूरा साथ TCS निभाएगी. TCS रेडियो उपकरण का खुद मैन्युफैक्चरिंग करेगी और अगले 9 साल तक कॉन्ट्रैक्ट के तहत बीएसएनएल के सेवाओं को सुचारू रूप से चलाएगी

From Around the web