महारानी एलिजाबेथ द्रितीय के निधन के बाद चार्ल्स बने ब्रिटेन के नए किंग ,2.23 किलो सोने का मुकुट,इतने साल बाद ब्रिटेन का राष्टगान बदलेगा

महारानी एलिजाबेथ द्रितीय के निधन के बाद चार्ल्स बने ब्रिटेन के नए किंग ,2.23 किलो सोने का मुकुट,इतने साल बाद ब्रिटेन का राष्टगान बदलेगा

 
h

ब्रिटेन की महारानी एलिजाबेथ द्वितीय का निधन हो गया है.ऐसे में अब उनके निधन के बाद उनके बेटे प्रिंस चार्ल्स नए किंग बन गए है। महारानी के निधन के 24 घंटो के अंदर लंदन के सेट जेम्स पैलेस में एक सेरेमोनियल बॉडी के बीच चार्ल्स को आधिकारिक तोर पर राजा बनाया जाएगा।अब उन्हें किंग चार्ल्स तृतीया के नाम से जाना जाएगा। नए किंग के रूप में उनके क्या कहा जाएगा ,यही नए चार्ल्स तृतीया का फैसला है।परंपरा के अनुसार वे अपने लिए चार नाम -चार्ल्स ,फिलिप अर्थर,जॉर्ज में से किसी एक नाम को चुन सकते है .वही उनकी पत्नी को कैथरीन को डचेस ऑफ करवाल के नाम से जाना जाएग। 

h

इस  कार्यक्रम में सबसे पहले प्रिवी काउंसिल के लॉर्ड प्रेसिडेंट पेनी मोर्डंट एलिजाबेथ-II के निधन की घोषणा करेंगे। यह घोषणा ऊंची आवाज में होगी। इसके बाद कई प्रेयर्स होंगीं, महारानी की उपलब्धियों को भी बताया जाएगा। साथ ही नए किंग की खूबियों को भी गिनाया जाएगा।
 
इस प्रोग्राम में 700 से ज्यादा लोग जुड़ते है,लेकिन इस बार इतनी संख्या नहीं होने की उम्मीद है,क्युकी शार्ट नोटिस पर प्रोग्राम आयोजित हो रहा है। 1952 में जब एलिजाबेथ द्वितीय क्वीन बनी थी,तब लगभग 200 लोग गवाह बने थे .पारंपरिक रूप से राजा इसमें शामिल नहीं होता है।इस प्रोग्राम में सबसे पहले प्रिवी काउंसलिंग के लार्ड प्रेसिडेंट पेनी मोर्डेट एलिजाबेथ द्वितीय के निधन की घोषणा करेंगे। यह घोषणा ऊंची आवाज में होगी। इसके बाद कई प्रेयर्स होगी,महारानी की उपलब्धियों को भी बताया जाएगा। साथ ही नए किंग की खूबियों को भी बताया जाएगा। इसमें प्रधानमंत्री ,केंटरबरी के आकरबिशप और लार्ड चांसलर के साथ कई सीनियर ऑफिसर साइन करेंगे। 

h

वही 1952 के बाद पहली बार ऐसा होगा जब ब्रिटेन के राष्टगान का शब्द होगा 'गॉड सेव द किंग '। इससे पहले गॉड सेव दे क्वीन था। इसका बाद हैक पार्क,लंदन टावर और नेसिनिक जहाजों से तोपों की सलामी दी जाएगी। ताजपेशी के लिए अभी चार्ल्स को इंतजार करना पड़ेगा क्युकी इसकी तैयारी में समय लगेगा। इससे पहले क्वीन एलिजाबेथ को भी करीब 16 महीने इंतजार करना पड़ा था। चार्ल्स 40 वे स्मार्ट होंगे। इस दौरान केंटरबरी के आर्कविशप सेट एडवर्ड्स के क्राउन को चार्ल्स के सर पर रखेंगे जो सोने का बना मुकुट होता है .इसका वजन लगभग  2.23 किलो का होता है। यह लंदन टावर के क्राउन ज्वेल्स का केंद्रबिंदु है।कोरोनेशन के समय की इसे कंग को पहनाया जाता है। 
 

From Around the web