जानिए आखिर क्या है वह चीजें जिन्हें बॉलीवुड फिल्म्स को साउथ फिल्मों से सीखना चाहिए

जानिए आखिर क्या है वह चीजें जिन्हें बॉलीवुड फिल्म्स को साउथ फिल्मों से सीखना चाहिए

 
.

कहते हैं गिरकर ही इंसान सीखता है, लेकिन बॉलीवुड में ऐसा नहीं है। बॉलीवुड जो कभी अरबों कमाता था, आज हर पाई कमाने का जुनून सवार हो गया है। जहां साउथ की 'पुष्पा', 'केजीएफ 2', 'विक्रम', 'कार्तिकेय 2' और 'आरआरआर' जैसी फिल्में कमाई करने में सफल रही हैं, वहीं दूसरी तरफ बॉलीवुड की 'अटैक', 'रनवे 34', 30 से ज्यादा 'हीरोपंती 2', 'सम्राट पृथ्वीराज', 'बच्चन पांडे', 'लाल सिंह चड्ढा', 'शमशेरा' और 'रक्षाबंधन' जैसी फिल्में बॉक्स ऑफिस पर धराशायी हो गईं। इस बीच ट्रोल आर्मी साउथ बनाम बॉलीवुड को लेकर भी बहस कर रही है।

बॉलीवुड ने कभी अपनी कमियों पर काम नहीं किया। इसके उलट जब लोगों ने उनकी तुलना साउथ की फिल्मों से की तो उन्होंने सभी को भारतीय सिनेमा कहना शुरू कर दिया। कई बड़े निर्माताओं ने कहा कि इसे भारतीय सिनेमा के रूप में देखा जाना चाहिए न कि दक्षिण और उत्तर के सिनेमा के रूप में।आइए उन 5 कारणों पर चर्चा करें कि क्यों बॉलीवुड को वास्तव में दक्षिण से कुछ चीजें सीखनी चाहिए।बॉलीवुड को लेकर ये हंगामा मुख्य रूप से सुशांत सिंह राजपूत के निधन के बाद हुआ है। पहली बार बॉलीवुड के बहिष्कार का भी बड़े पैमाने पर जिक्र किया गया।

सुशांत के प्रशंसकों ने बॉलीवुड के अहंकार पर सवाल उठाए और बॉलीवुड में बाहरी लोगों और अंदरूनी सूत्रों को लेकर बहस छिड़ गई।अब तक जितनी भी फिल्मों का बहिष्कार किया गया है, उन पर लोगों ने बॉलीवुड पर एक खास धर्म को निशाना बनाने और हिंदू भावनाओं को भड़काने का आरोप लगाया है। एक समय था जब कहा जाता था कि साउथ की फिल्मों में सिर्फ तीन चीजें काम करती हैं, एंटरटेनमेंट, एंटरटेनमेंट और एंटरटेनमेंट। लेकिन आज स्थिति यह है कि पूरी दुनिया साउथ की फिल्मों की मिसाल दे रही है। आरआरआर जैसी फिल्मों को ऑस्कर दिए जाने की मांग है।

लेकिन आज बॉलीवुड भी इस मामले में पीछे दिख रहा है। सोशल मीडिया के जमाने में फैन्स को इन स्टार्स के बारे में ज्यादा पता चल गया है। याद रहे सोशल मीडिया पर केजीएफ के 'रॉकी भाई' का वो वीडियो, जिसमें सिक्योरिटी गार्ड फैन को यश से मिलने से रोकता है, तभी यश आगे आता है और सिक्योरिटी गार्ड को हटाकर फैन के पास जाकर फोटो क्लिक करता है. एक्टर का ये अंदाज आज भी सोशल मीडिया पर वायरल होता है. ये बात सिर्फ यश में ही नहीं बल्कि राम चरण से लेकर साउथ के तमाम स्टार्स में देखने को मिलती है. वह कई इंटरव्यू में फैन्स के बारे में खास बातें करते नजर आते हैं. वह अपने प्रशंसकों का भी सम्मान करते हैं और इसीलिए प्रशंसक भी उन्हें देवी-देवताओं की तरह पूजते हैं।

From Around the web