Alok Nath Birthday -रोमांटिक हीरो के रूप में किया काम, पहली फिल्म के बाद मिला बाबू जी का टैग

Alok Nath Birthday -रोमांटिक हीरो के रूप में किया काम, पहली फिल्म के बाद मिला बाबू जी का टैग

 
p

आलोक नाथ ने टीवी से लेकर बॉलीवुड में अलग-अलग किरदारों में अपनी छाप छोड़ी है उन्होंने हर तरह के किरदार अदा किए हैं लेकिन अगर अभिनय की दुनिया में अगर नाम आलोक नाथ का लिया जाए तो लोगों को दिमाग में उनकी बाबू जी वाली छवि ही उभरकर सामने आती है आलोक नाथ 10 जुलाई को अपना 65वां जन्मदिन सेलिब्रेट कर रहे हैं चलिए जानते हैं कि आखिर कैसे आलोक नाथ को टीवी से लेकर फिल्मों तक में मिला बाबू जी का टैग और कौन सी थी उनकी पहली फिल्म जिसमें उन्होंने पिता का किरदार अदा किया था

alok

आलोक नाथ दिल्ली के रहने वाले हैं उनके पिता एक डॉक्टर थे अपनी स्कूल और कॉलेज की पढ़ाई के बाद आलोक नाथ की रुचि अभिनय की तरफ होने लगी और इसी वजह से उन्होंने कॉलेज के बाद रुचिका थिएटर ग्रुप जॉइन कर लिया इसके बाद उन्होंने तीन साल तक नेशनल स्कूल ऑफ ड्रामा में पढ़ाई की और एक्टिंग सीखी 

an

वह पिता के किरदार में इस कदर ढल चुके हैं कि उनकी छवि टिपिकल बाबू जी की बन चुकी है उन्हें बाकी किरदारों में भी काफी पसंद किया जाता है आलोक नाथ ने टीवी में खलनायकी भी की है उन्होंने अपने करियर में रोमांटिक हीरो के रूप में भी काम किया है आलोक नाथ ने अपने करियर में 140 फिल्मों में काम किया है वह 15 से ज्यादा टीवी सीरियल्स में भी नजर  आ चुके हैं आलोकनाथ ने अपने करियर की शुरुआत 1980 में फिल्म गांधी से की थी हालांकि इस फिल्म में उनका रोल काफी छोटा था और इसके बाद आलोक नाथ को अपनी पहचान बनाने के लिए बहुत संघर्ष करना पड़ा 1987 में आई फिल्म 'कामाग्नि' में आलोक नाथ ने काफी बोल्ड सीन दिए थे 

aloknath

इसके अलावा वे फिल्म 'हम साथ-साथ हैं','हम आपके हैं कौन','परदेस', 'मैंने प्यार किया', 'विवाह' जैसी फिल्मों में एक पिता, ससुर या चाचा के किरदारों में नजर आए हैं टीवी में वे 'सपना बाबुल का बिदाई','मैं रहने वाली महलों की','यहां मैं घर-घर खेली','बुनियाद' जैसे सीरियल्स में पिता के किरदार में नजर आ चुके हैं 

From Around the web