यह पांच नुस्खे अपनाने से कार में बैठने के बाद मोशन सिकनेस की समस्या हो जाएगी झट से दूर

यह पांच नुस्खे अपनाने से कार में बैठने के बाद मोशन सिकनेस की समस्या हो जाएगी झट से दूर

 
.
अगर आप सिर्फ चक्कर आना, थकान और जी मिचलाना जैसे लक्षणों की वजह से कार या किसी चार पहिया वाहन में लंबी यात्रा करने से बचते थे तो अब आपकी टेंशन दूर होने वाली है। मोशन सिकनेस कहे जाने वाले इन लक्षणों के चलते कई बार आप योजना तो बनाते हैं, लेकिन बाद में पछताते हैं। इसलिए आज हम आपको ऐसे 5 नुस्खे बताने जा रहे हैं, जिससे मोशन सिकनेस की समस्या दूर हो जाएगी।

1. ताजी हवा के लिए सनरूफ का इस्तेमाल

कई बार कार के केबिन में किसी तरह की दुर्गंध आने के कारण ही आपको मोशन सिकनेस हो जाती है। इससे बचने के लिए खिड़की को थोड़ा खुला रखें। अगर आपकी कार में सनरूफ है तो उसे खुला भी रखा जा सकता है।

2. हाइड्रेशन के लिए एसी का कम इस्तेमाल करें

लंबी यात्रा के दौरान मोशन सिकनेस से बचने के लिए हमेशा हाइड्रेटेड रहना बहुत जरूरी है। खूब पानी पीने से आप मतली जैसे कारणों से खुद को बचा सकते हैं। इसके लिए एसी का कम इस्तेमाल करें। एसी से आपको प्यास कम लगती है और आपको पता भी नहीं चलता कि शरीर में कब पानी की कमी हो गई है।read also:ओडिसी लेकर आया है ऐसा टू व्हीलर जिसमे नही पड़ेगी लाइसेंस की आवश्यकता

3. एडजस्टेबल फ्रंट सीट का इस्तेमाल

कई बार ड्राइवर की सीट पर बैठने पर लोगों को मोशन सिकनेस महसूस होती है।इसलिए इस स्थिति से बचने के लिए ड्राइवर की सीट पर ही रहें। यदि यह संभव न हो तो कोशिश करें कि आपके लिए आगे की सीट बुक करवा लें। साथ ही अगर कार में एडजस्टेबल सीट है तो ऐसे लक्षण कम होंगे।

4. शराब पीकर यात्रा न करें

यदि आप मोशन सिकनेस से पीड़ित व्यक्ति हैं तो शराब के प्रभाव में यात्रा करना खतरनाक हो सकता है। इसके बजाय बेहतर होगा कि आप पिछली सीट पर लेट जाएं और ढेर सारा पानी पिएं।

5. नेविगेशन फीचर मदद करेगा

मोशन सिकनेस से बचने का एक प्रभावी तरीका है कि आप किसी से बात करते रहें ताकि आपका ध्यान न भटके। अगर आप अकेले सफर कर रहे हैं तो ऐसी स्थिति में आप नेविगेशन फीचर को ऑन कर सकते हैं। या अपने पसंदीदा गाने सुनें।

From Around the web