HSRP: जानिए हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट के फायदे, क्या यह आपके वाहन की सुरक्षा करेगी ?

HSRP: जानिए हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट के फायदे, क्या यह आपके वाहन की सुरक्षा करेगी ?

 
.

देश में सभी तरह के वाहनों पर हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगाना अनिवार्य है। लेकिन कई लोग अब भी इन्हें कार में लगाने से हिचकिचाते हैं। उन्हें इस बात की जानकारी नहीं होती है कि ऐसी नंबर प्लेट लगाकर जहां उनकी कार, बाइक सुरक्षित रहती है, वहीं पुलिस द्वारा किए गए चालान से भी उन्हें बचाते हैं।इन प्लेटों को एल्युमिनियम से बनाया गया है। जिसमें एक होलोग्राम भी होता है जो क्रोमियम पर आधारित होता है।

होलोग्राम एक तरह के स्टिकर की तरह दिखता है।इसमें वाहन के सभी विवरण होते हैं।सुरक्षा के लिए हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट पर यूनिक लेजर कोड भी छपा होता है। प्रत्येक वाहन के लिए एक अलग कोड दिया गया है। इसे आसानी से हटाया नहीं जा सकता।इस प्लेट की सबसे बड़ी विशेषता यह है कि अगर यह एक बार टूट जाती है तो इसे दोबारा नहीं जोड़ा जा सकता है। इसके साथ ही इस प्लेट को बहुत ही अलग तरीके से बनाया गया है ताकि कोई इसे कॉपी करके नकली प्लेट न बना सके।

इससे वाहन की सुरक्षा बढ़ जाती है और इससे चोरी और दुरूपयोग नहीं किया जा सकता है।सेंट्रल मोटर व्हीकल एक्ट 1989 के नियम 50 के अनुसार वाहन पर हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट लगाना जरूरी है। इस अधिनियम के तहत कुल छह प्रकार के वाहनों पर उच्च सुरक्षा नंबर प्लेट लगाना जरूरी है, जिनमें नॉन ट्रांसपोर्ट व्हीकल, ट्रांसपोर्ट व्हीकल, रेंट और कैब वाले ट्रांसपोर्ट व्हीकल, बैटरी से चलने वाले रेंट और कैब वाले ट्रांसपोर्ट व्हीकल, बैटरी से चलने वाले नॉन ट्रांसपोर्ट व्हीकल और बैटरी से चलने वाले ट्रांसपोर्ट व्हीकल सभी व्हीकल शामिल हैं।

नए वाहनों के अलावा पुराने वाहनों पर भी इसे लगाना जरूरी है।यदि कोई वाहन दुर्घटनाग्रस्त हो जाता है तो कार में लगी हाई सिक्योरिटी नंबर प्लेट वाहन के मालिक सहित सभी जानकारी देती है। इससे कार में सवार घायलों के परिवारों को सूचना भेजी जा सकती है।

From Around the web