Poonam Rajasthani : ​​​​​​​महज 13 साल की उम्र में हो गया बाल विवाह, सुसराल में किया कुछ ऐसा कि बन गई सोशल मीडिया स्टार, एक महीने की कमाई 1 लाख

Poonam Rajasthani : ​​​​​​​महज 13 साल की उम्र में हो गया बाल विवाह, सुसराल में किया कुछ ऐसा कि बन गई सोशल मीडिया स्टार, एक महीने की कमाई 1 लाख

 
.

मनमोहन सेजू/ बाड़मेर

बरसों तलक देश भर में राजस्थान की पृष्ठभूमि पर बने बालिका वधु सीरियल ने अपनी धूम मचाई थी।  आनन्दी और जगिया की काल्पनिक कहानी ने लोगों के दिलों में घर कर लिया था।  आज हम बात कर रहे हैं एक ऐसी बालिका वधु की।  जिसको महज सातवीं में पढ़ाई छुड़ाकर 13-14 साल की उम्र में बाबुल के घर से विदा कर ससुराल भेज दिया गया, लेकिन उस बच्ची ने अपनी समझ की उम्र में आते-आते मोबाइल को जरिया बनाकर सोशल मीडिया पर अपनी सोशल मीडिया क्वीन ऑफ मारवाड़ की पहचान बना दी है। सोशल मीडिया ने कई प्रतिभाओं को पहचान दी है।  बस प्रतिभा होनी चाहिए. बाड़मेर के खारा गांव की पूनम राजस्थानी इसका जीता जागता उदाहरण हैं।  पूनम सिर्फ 7वीं क्लास तक पढ़ सकी है।   13-14 साल में उनका बाल विवाह हो गया था। 

वक्त बीता और पूनम में सोशल मीडिया का सहारा लेकर अब यू ट्यूब, फेसबुक और इंस्टाग्राम तक अपने लाखों फॉलोअर्स कमा लिये हैं।  क्वीन ऑफ मारवाड़ कहलाने वाली पूनम राजस्थानी के मासूम चेहरे और बिल्कुल ठेठ राजस्थानी स्टाइल को खूब पसंद किया जाता है। 

Also read:viral video: बंजर जमीन से पानी निकालने के लिए महिलाओं ने किया कमाल, मेहनत देख लोगों ने किया सलाम

अपने घर में राजस्थानी परिवेश को दिखाते हुए पूनम की बोलचाल का तरीका सिर्फ राजस्थानी ही नहीं दूसरे राज्यों के लोग भी देखना पसंद करते हैं. सास -बहु- ननद की नोंकझोंक और आम गांव के परिवार के छोटे छोटे टॉपिक पर खुद ही सारे किरदार निभाने वाली पूनम राजस्थानी अब लोकप्रिय सोशल मीडिया स्टार हैं। 

अब हर महीने एक लाख तक कमाने वाली पूनम राजस्थानी के मुताबिक मैं सिर्फ एक अपवाद हूं।  आप अपनी बेटी को जरूर पढ़ाएं. शादी के बाद पहले पूनम में सिलाई और कढ़ाई का काम किया था लेकिन ज्यादा कुछ कमाई नहीं हुई। 

शादी के बाद पूनम ने सिलाई-कढ़ाई का काम शुरू किया और इसमे अधिक आमदनी ना होने पाने की समस्या की वजह से पूनम आमदनी के अन्य साधनो की खोज मे लग गई और खोज के दौरान उन्होंने टिक टॉक पर वीडियो बनाने शुरू किए और इसे ही अपनी आमदनी का साधन बनाने के बारे में सोचा. पूनम ने अपनी इसी सोच को आगे बढ़ाते हुए नए जीवन की शुरुआत की जो कि उनके जीवन में मील का पत्थर साबित हुआ। 

From Around the web