क्यों महिलाओ को कहा जाता है Gold Digger-जानिये क्या है इस शब्द का असली मतलब

क्यों महिलाओ को कहा जाता है Gold Digger-जानिये क्या है इस शब्द का असली मतलब

 
.

हाल ही में बॉलिवुड एक्ट्रेस सुष्मिता सेन IPL के फाउंडर ललित मोदी के साथ रिलेशनशिप को लेकर चर्चा में हैं। लोग इनके रिलेशनशिप को लेकर तरह-तरह की बातें भी कर रहे हैं। नेटिजेन्स सुष्मिता को "गोल्ड डिगर" (Gold Digger) कह कर ट्रोल कर रहे हैं। उनको लेकर कई तरह के मीम्स भी वायरल हो रहे हैं। लोग सुष्मिता को गोल्ड डिगर कहते हुए इसलिए ट्रोल कर रहे हैं, क्योंकि उनका मानना है कि वो ललित मोदी से साथ केवल पैसों के लिए रिलेशनशिप में आई हैं।

हालांकि, आज हम इस बात पर गौर करेंगे कि ये "गोल्ड डिगर" (Gold Digger) शब्द कहां से आया और इसका वास्तव में क्या मतलब है।दरअसल, गोल्ड डिगर शब्द का इस्तेमाल 20वीं सदी में ही किया जाने लगा था। 20वीं सदी की शुरुआत में लोग इस शब्द का इस्तेमाल सेक्स वर्कर्स यानी यौनकर्मियों के लिए किया करते थे।

अगर आप Gold Digger का शाब्दिक अर्थ निकालेंगे तो ये कुछ इस प्रकार होगा। गोल्ड (Gold) का मतलब होता है सोना और डिगर (Digger) का मतलब होता है 'खोदने वाला' यानी खुदाई करने वाला। ऐसे में इस शब्द का अर्थ होगा सोने की खुदाई करने वाला। गोल्ड डिगर शब्द खासकर वैसी महिलाओं के लिए इस्तेमाल किया जाता था, जो पैसों के लिए यौन संबंध बनाया करती थीं।यह शब्द पहली बार 1911 में  अमेरिकी उपन्यासकार रेक्स बीच (Rex Beach) ने पहली बार अपनी किताब The Ne'er-Do-Well में Gold Digger शब्द का इस्तेमाल किया था.

इसके बाद 1915 में वर्जिनिया ब्रुक्स (Virginia Brooks) ने My Battles with Vice में इस शब्द का इस्तेमाल किया।ऑक्‍सफोर्ड डिक्‍शनरी के अनुसार "गोल्ड डिगर" शब्द का इस्तेमाल उन महिलाओं के लिए किया जाता है, जो सामाज में अपना एक स्तर (Standard) बनाए रखने के लिए किसी अमीर शख्‍स से शादी करती हैं।

From Around the web